फूलन के महल फूलन की शय्या फूले कुंजबिहारी फूली श्री राधाप्यारी ।
फूले दंपति आनंद मगन फूले फूले गावत तानन न्यारी ॥१॥
फुले फुले कमल लिए कर फूले आनंद है सुखकारी ।
हरिनारायण श्यामदास के प्रभु पिय तिन पर वारों फूल चंपक वेलि निवारी ॥२॥